मौसम दिल्ली में
बेटी ने प्रेमी संग मिल की थी पिता की नृशंस हत्या - NGX NEWS

बेटी ने प्रेमी संग मिल की थी पिता की नृशंस हत्या

बेटी के सिर पर प्रेम का भूत इस तरह सवार हुआ कि उसने अपने प्रेमी के साथ मिल कर अपने पिता की नृशंस हत्या कर दी। असमोली थाना पुलिस ने हत्या का सफल अनावरण कर अभियुक्त व अभियुक्ता को मय आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मुकद्मा दर्ज कर विधिक कार्रवाई की है।

  • पुलिस ने हत्या का सफल अनावरण कर अभिुक्त व अभियुक्ता को किया गिरफ्तार

असमोली (एनजीएक्स)। बेटी के सिर पर प्रेम का भूत इस तरह सवार हुआ कि उसने अपने प्रेमी के साथ मिल कर अपने पिता की नृशंस हत्या कर दी। असमोली थाना पुलिस ने हत्या का सफल अनावरण कर अभियुक्त व अभियुक्ता को मय आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मुकद्मा दर्ज कर विधिक कार्रवाई की है।
विदित हो कि 17 नवम्बर की रात्रि को थाना असमोली क्षेत्रान्तर्गत ग्राम भूड़ा बेगमपुर में नौबत सिंह की धारदार हथियारों से हत्या कर देने के सम्बन्ध में मृतक की पत्नी की तहरीर के आधार पर थाना असमोली पर मुकद्मा पंजीकृत किया गया था। घटना की गम्भीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा द्वारा खुलासे हेतु टीमों को गठित किया गया था। रविवार को प्रभारी निरीक्षक थाना असमोली देवेन्द्र कुमार शर्मा मय हमराह पुलिस टीम द्वारा विवेचना के दौरान प्रकाश में आये अभियुक्त राहुल जाटव पुत्र स्व0 सतपाल सिंह निवासी ग्राम रहटौल फतेहउल्ला गंज थाना हजरतनगर गढ़ी व अभियुक्ता रानी पुत्री नौबत सिंह जाटव निवासी ग्राम भूड़ा बेगमपुर थाना असमोली जोकि मृतक की पुत्री है को मनोटा पुल के पास से गिरफ्तार किया है। अभियुक्त की निशादेही पर हत्या में प्रयुक्त एक गंडासा व अभियुक्ता की निशादेही पर हत्या में प्रयुक्त एक चाकू मृतक के घर से बरामद किया गया है।
पुलिस पूछताछ में राहुल जाटव पुत्र स्व0 सतपाल सिंह निवासी ग्राम रहटौल फतेहउल्ला गंज थाना हजरतनगर गढ़ी ने बताया कि उसके फूफा सुनील उर्फ छोटे ग्राम भूड़ा बेगमपुनर के ही रहने वाले हैं। इन्हीं के यहां वह आता था तभी उसके प्रेम सम्बन्ध मृतक की पुत्री से हो गये थे। रानी उससे फोन पर बात करती थी। उसके पिता ने रानी को उससे बात करते पकड़ लिया था। जिस कारण सिम तोड़ कर फेंक दी थी तथा रानी का काफी डांटा भी था और उसका रिश्ता कहीं और करना चाहते थे। रानी ने फोन कर उसे यहां बुलाया था जिसपर वह समय निकालकर 17 नवम्बर को अपने फूफा के यहां आया तथा शाम को खाना खाने के बाद सभी लोग जब सो गये तो वह रात में रानी से मिलने उसके घर आ गया। रानी ने बताया कि उनकी शादी उसके पिता नहीं होने देंगे उन्हें रास्ते से हटाना होगा।
उसके पश्चात दोनों ने उसके पिता की हत्या करने की योजना बनाई और रानी घर से ही एक चाकू तथा ईख काटने वाला गंडासा ले आई। रानी ने चाकू अपने पास रखा तथा गंडासा उसे दे दिया। इसके पश्चात वे उसके पिता के कमरे में गये जोकि कमरे में अकेले सो रहे थे। उसके द्वारा नौबत सिंह के मुँह पर कपड़ा रखा गया और रानी ने अपने पिता के गले व मुँह पर चाकू से कई वार किये इसके बाद उसके द्वारा भी गंडासे से माथे व सिर में कई जगह वार कर नौबत सिंह की हत्या कर दी और गंडासे को चारे के ढेर में छिपाकर रख दिया तथा वहां से निकल आया।
वहीं दूसरी ने पुलिस को बताया कि राहुल के वहां से जाने के बाद उसके द्वारा चाकू को घर में नीचे बने बाथरूम के ऊपर पड़े टीन पर फेंक दिया था। इसके बाद घर का दरवाजा बन्द किया और बरामदे में सो रही अपनी मां को जगाया। रानी ने बताया कि उसकी मां को कम सुनाई देता है तथा रात में कम दिखाई देता है। रानी ने अपनी मां को बताया कि राया बुजुर्ग के जिन लोगों ने हमारी जमीन खरीदी थी वह लोग पिताजी की हत्या करके दीवार फांद कर भाग गये। दोनों ने मिलकर शोर मचाया कि मेरे भाई जो नीचे कमरे में सो रहे थे वे भी ऊपर आ गये। फिर मेरी मां ने उसके कहने पर राया बुजुर्ग के रहने वाले असलम पुत्र भूरा, लियाकत पुत्र विरासत, साबिर पुत्र नजर, बुद्धा पुत्र नजर एवं एक व्यक्ति अज्ञात के खिलाफ थाने पर रिपोर्ट लिखा दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: All Rights Reserved and Copyright By NGX Media !!