मौसम दिल्ली में
चिकित्सकों ने मनाया विश्व प्राकृतिक चिकित्सा दिवस - NGX NEWS

चिकित्सकों ने मनाया विश्व प्राकृतिक चिकित्सा दिवस

नगर के हातिम सराय में शुक्रवार को विश्व प्राकृतिक चिकित्सा दिवस मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ हकीम हबीब उर रहमान ने की। वक्ताओं ने नेचुरोपैथी को अपनाने की आम आदमी को दी सलाह, कहा नेचुरोपैथी के जरिए हम सभी अपने शरीर को स्वस्थ्य तथा रोगमुक्त रख सकते हैं।

— वक्ताओं ने रिफाइंड को बताया धीमा जहर, कहा रिफाइंड को त्याग सरसों के तेल या देशी घी को दें वरीयता

सम्भल (एनजीएक्स)। नगर के हातिम सराय में शुक्रवार को विश्व प्राकृतिक चिकित्सा दिवस मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ हकीम हबीब उर रहमान ने की। वक्ताओं ने नेचुरोपैथी को अपनाने की आम आदमी को दी सलाह, कहा नेचुरोपैथी के जरिए हम सभी अपने शरीर को स्वस्थ्य तथा रोगमुक्त रख सकते हैं।
विदित हो कि प्रत्येक वर्ष 18 नवंबर को पूरे विश्व के अंदर विश्व प्राकृतिक चिकित्सा दिवस मनाया जाता है। डॉक्टर सलमान ने प्राकृतिक चिकित्सा दिवस पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हम अपने खान-पान को सही कर लेंगे तो रोग हमसे दूर भागेंगे आने वाला कल नेचुरोपैथी का है। डॉक्टर विक्रम सैनी ने विशिष्ट अतिथि के रुप में बोलते हुए कहा कि नेचरोपैथी हमें सादा जीवन उच्च विचारों की शिक्षा देती है और प्रकृति से प्रेम करने की प्रेरणा देती है। डॉक्टर दानिश ने कहा कि हमने अनेकों फिजियोथेरेपी के मरीजों को नेचुरोपैथी से ठीक किया है।
मुख्य अतिथि के रुप में बोलते हुए वरिष्ठ नेचुरोपैथी चिकित्सक डॉक्टर इफ्तेखार अहमद ने बताया कि हम नेचुरोपैथी के जरिए से अपने शरीर को रोग मुक्त कर रख सकते हैं। हवा पानी और मिट्टी के जरिए से अनेकों रोगों को खत्म किया जा सकता है। हमें हाइजेनिक वस्तुओं का सेवन बंद करना होगा और ऑर्गेनिक वस्तुओं को ग्रहण करना होगा, तभी हमारा शरीर रोग मुक्त हो सकेगा। मौसम की सब्जियां और फल हमारे लिए बहुत जरूरी है हमें उनका सेवन जरूर करना चाहिए। प्रकृति की कोई भी वस्तु हमें नुकसान नहीं पहुंचाती हमें मिट्टी या तांबे के बर्तन में पानी पीना चाहिए। शुगर के रोगियों को सुबह शाम टहलना चाहिए। फास्ट फूड और जंक फूड से हमें बचना चाहिए। यह हमारे लीवर को खराब कर रहे हैं। रिफाइंड एक धीमा जहर है। रिफाइंड को हमें त्यागना होगा। देसी घी और सरसों के तेल का सेवन करना होगा। तो हम एक रोग मुक्त समाज की स्थापना कर सकते हैं। सरकारों को मिलावटी वस्तुएं बनाने वालों के लिए सख्त कानून बनाने होंगे तभी हमारा देश स्वच्छ और स्वस्थ हो सकेगा।
समस्त देशवासियों को विश्व प्राकृतिक चिकित्सा दिवस की मुबारकबाद देते हुए कहा कि हम सब अपने घरों के अंदर ऑर्गेनिक वस्तुओं का प्रयोग शुरू करें तभी हम प्रकृति को बचाने में सहायक हो सकेंगे। कार्यक्रम का संचालन हकीम सुभान ने किया जबकि डॉ कमर सैफी, फुरकान, साहिल ,मोहम्मद यूनुस, आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। अंत में डॉक्टर रिज़वान अहमद ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में लोगों को जागरूक करने के लिए जगह जगह प्रोग्राम करने का प्रस्ताव भी पास हुआ। प्रोग्राम में उपस्थित डॉक्टर विक्रम सिंह, डॉक्टर कमर सैफी, डॉक्टर दानिश, फीजियो डा0 रिजवान अहमद, सलमान डॉक्टर इफ्तेखार अहमद, डॉक्टर रूही नाज, डॉक्टर युश्रा, हकीम सुभान आदि अनेक चिकित्सक उपस्थित रहे।

मुकदमों से पूर्व होगा वैवाहिक विवादों का निपटारा

चन्दौसी (एनजीएक्स)। जनपद न्यायाधीश भानु देव शर्मा, प्रधान न्यायाधीश कालीचरण तथा पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा की बैठक जनपद न्यायाधीश के विश्राम कक्ष में बुद्धवार शाम सम्पन्न हुई। बैठक में प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय ने पुलिस अधीक्षक द्वारा प्री लिटीगेशन वैवाहिक मामलों में जनपद के समस्त अधीनस्थ थानाध्यक्षों को दिए गए दिशा-निर्देश की समीक्षा की तथा निर्देशित किया।
बैठक में कहा गया कि वैवाहिक मामलों में पक्षकारों के मध्य विवादों को थाने में मुकदमा तुरंत दर्ज न किया जाए एवं पक्षकारों को मध्यस्थता व सुलह समझौते हेतु नोडल अधिकारी लोक अदालत जनपद न्यायालय के कार्यालय में संदर्भित किया जाए। साथ ही साथ यह भी निर्देश दिया गया कि थानों पर लंबित प्री लिटिगेशन स्तर के पारिवारिक मामलों की सुलह समझौते हेतु सुनवाई दिनांक 20 नवंबर 21 को जनपद न्यायालय में होगी। जनपद न्यायाधीश द्वारा प्री लिटिगेशन वैवाहिक मामलों के संबंध में आयोजित होने वाली स्पेशल लोक अदालत के अधिकतम प्रचार एवं प्रसार तथा अधिक से अधिक सुलह समझौते के माध्यम से निस्तारण पर बल दिया गया। यह जानकारी नोडल अधिकारी लोक अदालत बबिता पाठक द्वारा दी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: All Rights Reserved and Copyright By NGX Media !!