मौसम दिल्ली में
धूमधाम से मनायी गयी गुरु नानक देव की जयन्ती - NGX NEWS

धूमधाम से मनायी गयी गुरु नानक देव की जयन्ती

नगर के स्टेशन रोड स्थित एबीसी मांटेसरी स्कूल में स्कूल संचालिका संगीता भार्गव के संयोजन में शुक्रवार को गुरु नानक देव की जयन्ती धूमधाम से मनायी गयी। जिसका शुभारम्भ गुरु नानक देव के चित्र के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित कर किया गया। स्कूल की शिक्षिका रश्मित कौर ने बच्चों को गुरु

चन्दौसी (एनजीएक्स)। नगर के स्टेशन रोड स्थित एबीसी मांटेसरी स्कूल में स्कूल संचालिका संगीता भार्गव के संयोजन में शुक्रवार को गुरु नानक देव की जयन्ती धूमधाम से मनायी गयी। जिसका शुभारम्भ गुरु नानक देव के चित्र के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित कर किया गया। स्कूल की शिक्षिका रश्मित कौर ने बच्चों को गुरु नानक देव जी के वारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि वह एक सच्चे गुरु थे। हम सभी को उनके द्वारा दी गई शिक्षाओं तथा उनके आदर्शों का अनुसरण करना चाहिये।
रश्मित ने आगे बताया कि गुरु नानक देव जी का जन्म 1469 में कार्तिक पूर्णिमा के दिन तलवंडी नामक स्थान पर हुआ था। जोकि आज पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त का हिस्सा है। इनकी माता का नाम तृप्ती देवी तथा पिता का नाम मेहता कालू जी था। गुरु नानक देव ने सभी को अपने अंदर की बुराईयों को समाप्त कर जीवन को प्रकाशित करने का रास्ता दिखाया। इसीलिये गुरु नानक जयन्ती को प्रकाश पर्व के रुप में मनाया जाता है। सभी बच्चों तथा शिक्षिकाओं ने गुरु नानक देव के चित्र के समक्ष धूप बत्ती जलाकर तथा पुष्प चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। कार्यक्रम को सफल बनाने में सभी शिक्षिकाओं का सक्रिय सहयोग रहा।

जिले में बनेंगे 142 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, सात करोड़ रूपये होगी लागत
— बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए बन रहे हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर से लाभान्वित होंगे ग्रामीण तथा शहरी मरीज

बहजोई (एनजीएक्स)। आयुष्मान भारत योजना के तहत जिले में 142 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बनाये जाने का कार्य प्रारम्भ हो गया है। जिला स्तर पर स्वास्थ्य विभाग ने इस कार्य को हरी झंडी भी दे दी है। इन सेंटरों को प्रारम्भ करने का मकसद लोगों को उनके घरों पर ही स्वास्थ्य सेवायें करना होगा। जिले में नगर व ग्रामीण क्षेत्र में लोगों के लिए बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए बन रहे एक हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर लगभग पांच लाख रुपये में बनकर तैयार होगा।
जनपद की जनता को इन सेंटरों से काफी राहत मिलेगी। जिन लोगों को जांच के लिए पीएचसी व सीएचसी पर निर्भर रहना पड़ता है वे अपने घरों पर रहकर ही विभिन्न जांचों को करा सकेंगे। 142 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के शुरू होने से ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को फायदा होगा। सेंटर में 12 तरह की स्वास्थ्य सुविधा होगी। सेंटरों के माध्यम से इलाज तो होगा ही साथ में मरीज की जांच भी होगी। जिला अस्पताल में मरीज को जो दवा लिखी जाएगी, मरीज घर के नजदीक बने इन हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर से ले सकेंगे। मरीज की नियमित रूप से जांच हो सकेगी। जरूरत पड़ने पर एंबुलेंस के जरिए मरीज रेफर भी हो सकेंगे।
जिला कार्यक्रम प्रबंधक संजीव राठौर ने बताया कि जिले में लोगों बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए कुछ हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर चल रहे हैं। वहीं 38 निर्माणाधीन है और 142 के निर्माण की प्रक्रिया चल रही है। अभी तक जिले में मौजूद पीएचसी व सीएचसी पर मरीजों को प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाओं के लिए ही हैं। आयुष्मान भारत योजना के तहत केंद्रों पर मरीजों की स्क्रीनिग होने लगेगी ताकि सीएचसी व नगरीय अस्पताल में आने से पहले ही मरीज का रोग पता चल सकेगा। लिहाजा यहां अब 90 प्रतिशत टेस्ट होने लगेंगे। साथ ही डिलीवरी की सुविधा का लाभ भी मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: All Rights Reserved and Copyright By NGX Media !!