मौसम दिल्ली में
शासन की मंजूरी के बाद बहजोई बना जिले का चौथा सर्किल - NGX NEWS

शासन की मंजूरी के बाद बहजोई बना जिले का चौथा सर्किल

बहजोई(एनजीएक्स) यूं तो संभल को नए जिले के रूप में 2011 मायावती सरकार के दौरान ही पहचान मिल गई थी लेकिन जिले को पूरी तरीके से अब तक अमलीजामा नहीं पहनाया गया था, सबसे बड़ी दिक्कत स्थाई मुख्यालय की थी, स्थाई मुख्यालय को कहां रखा जाए? अस्थाई मुख्यालय के रूप में बहजोई से सारी सरकारी गतिविधियां संचालित होने लगी थी, उसके बाद योगी सरकार ने बहजोई को स्थाई मुख्यालय का दर्जा दिया और उसके बाद बहजोई को और भी कई नई सौगातें दी गई जहां दिसम्बर के महीने में सरकार द्वारा 24 वीं वाहिनी मुरादाबाद की पीएसी को सम्भल जिले के लिए स्थानांतरित किया गया था,अब उसी क्रम में योगी सरकार द्वारा बहजोई को जिले के चौथे सर्किल के रूप में पहचान दे दी गई है,अब तक जिले में 3 सर्किल सम्भल,चन्दौसी एवं गुन्नौर थे अब बहजोई को नया सर्किल बना नई पहचान दी गई है। इसके अंतर्गत चन्दौसी तहसील से बहजोई,गुन्नौर से धनारी थाना,कैला देवी और महिला थाने को जोड़ा गया है,एसपी दफ्तर के निकट ही सीओ कार्यलय बनाया गया है,पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने बताया कि अपराध पर नियंत्रण पाने के लिए 3 नए थाने बनाये जाने को लेकर सरकार को प्रस्ताव भेजा गया था जोकि पास भी हुआ और सितम्बर माह में कैला देवी,जुनावई और एचौड़ा कम्बोह थानों के रूप में मान्यता मिली। इसके बाद अब पुलिस अधीक्षक की एक और पहल रंग लाई, उनके द्वारा बहजोई को नया सर्किल बनाये जाने को लेकर शासन को प्रस्ताव भेजा गया जिसको शासन ने मंजूरी भी दे दी,प्रमुख गृह सचिव की ओर से दिए गए निर्देशानुसार अब जिले में सम्भल,चन्दौसी,गुन्नौर के अलावा बहजोई भी एक सर्किल होगा,प्राप्त जानकारी में पुलिस अधीक्षक के मुताबिक मंगलवार से नये सर्किल की शुरुआत कर दी गई, इससे अपराध पर प्रभावी नियंत्रण और जनता को इसका फायदा मिलेगा,फिलहाल बहजोई सर्किल पर नवागत क्षेत्राधिकारी आलोक सिद्धू को कमान सौंपी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: All Rights Reserved and Copyright By NGX Media !!